9 हिंदी

माटी वाली

विद्यासागर नौटियाल

NCERT Solution

Part 2

प्रश्न 6: आज माटी वाली बुड्ढ़े को कोरी रोटियाँ नहीं देगी – इस कथन के आधार पर माटी वाली के हृदय के भावों को अपने शब्दों में लिखिए।

उत्तर: माटी वाली को अपने लाचार पति के प्रति दया भी आती है और प्रेम भी। उस दिन माटी वाली के पास इतने पैसे हैं कि वह कुछ प्याज खरीदकर अपने पति के लिए प्याज की भाजी भी परोस सकेगी। इससे पता चलता है कि वह अपने पति के चेहरे पर संतुष्टि के भाव देखने के लिए कितनी व्याकुल है।

प्रश्न 7: ‘गरीब आदमी का शमशान नहीं उजड़ना चाहिए।‘ इस कथन का आशय स्पष्ट कीजिए।

उत्तर: गरीब आदमी की जिंदगी हमेशा कगार पर होती है। एक हल्का झटका भी लगा तो जिंदगी तार तार हो जाती है। जिनके पास धन संपत्ति होती है वे किसी तरह से हिम्मत जुटा कर जिंदगी को फिर से रास्ते पर ले आते हैं। लेकिन ऐसे में गरीब आदमी अंदर तक टूट जाता है। शमशान वह आखिरी पड़ाव होता है जहाँ हर किसी को जाना है। टिहरी बाँध के प्रभाव में तो इस कहानी में शमशान भी बह चुके हैं। माटी वाली का सब कुछ तबाह हो जाता है और उसे अपना अंत भी भयावह दिखता है। इसलिए वह शमशान के नहीं उजड़ने की बात करती है।

प्रश्न 8: ‘विस्थापन की समस्या’ पर एक अनुच्छेद लिखिए।

उत्तर: जब भी विकास के नाम पर कोई बड़ी परियोजना बनती है तो इससे कई लोगों का विस्थापन होता है। विशाल बाँध परियोजना या सड़क परियोजना के निर्माण के प्रभाव में सैंकड़ों गाँव और हजारों लोग आ जाते हैं। ऐसे लोगों को अक्सर मुआवजे के नाम पर रुपए पैसे दिये जाते हैं और कई बार किसी अन्य स्थान पर जमीन भी दी जाती है। कहना बहुत आसान है लेकिन विस्थापन के बाद जिंदगी को फिर से नये सिरे से शुरु करना बहुत ही मुश्किल काम होता है। इसमें बहुत ही कम लोग होते हैं जो आगे की जिंदगी में सफल हो पाते हैं। अधिकतर लोग इस प्रक्रिया में टूट जाते हैं; खासकर से वैसे लोग जो निर्धन होते हैं। विकास से देश का जबरदस्त लाभ होता है लेकिन जिन लोगों की जिंदगी को छीनकर विकास किया जाता है वे हाशिये पर चले जाते हैं। माटी वाली वैसे ही लोगों में से है।



Copyright © excellup 2014