9 हिंदी

मेरा छोटा सा निजी पुस्तकालय

धर्मवीर भारती

NCERT Solution

प्रश्न 1: लेखक का ऑपरेशन करने से सर्जन हिचक क्यों रहे थे?

उत्तर: लेखक के दिल का साठ प्रतिशत हिस्सा बेकार हो गया था और केवल चालीस प्रतिशत हिस्सा ही काम कर रहा था। सर्जन को लगता था कि ऑपरेशन करने के बाद लेखक का दिल फिर से काम नहीं कर पाएगा। इसलिए वे लेखक का ऑपरेशन करने से हिचक रहे थे।


प्रश्न 2: ‘किताबों वाले कमरे’ में रहने के पीछे लेखक के मन में क्या भावना थी?

उत्तर: लेखक को लगता था कि जैसे परीकथाओं में राजा के प्राण किसी तोते में बसते हैं वैसे ही लेखक के प्राण उन किताबों में बसते थे। इसलिए लेखक अपने ‘किताबों वाले कमरे’ में रहना चाहते थे।

प्रश्न 3: लेखक के घर में कौन-कौन सी पत्रिकाएँ आती थीं?

उत्तर: आर्यमित्र साप्ताहिक, वेदोदम, सरस्वती, गृहिणी, बालसखा और चमचम

प्रश्न 4: लेखक को किताबें पढ़ने और सहेजने का शौक कैसे लगा?

उत्तर: लेखक के बचपन में उनके घर में कई पत्रिकाएँ और किताबें आतीं थीं। लेखक को उन्हें पढ़ने के लिए प्रोत्साहन मिलता था। इस तरह से उन्हें पढ़ने का शौक लगा। लेखक को अंग्रेजी में अव्वल नम्बर लाने के कारण स्कूल से पुरस्कार के रूप में दो किताबें मिलीं थी। लेखक के पिताजी ने आलमारी में एक खाना खाली कर दिया। उन्होंने लेखक से कहा कि अब से वह खाना लेखक की लाइब्रेरी हो गई। उसी के बाद से लेखक को किताबें सहेजने का शौक लगा।

प्रश्न 5: माँ लेखक की स्कूली पढ़ाई को लेकर क्यों चिंतित रहती थी?

उत्तर: लेखक जितना मन लगाकर अन्य किताबें पढ़ते थे उतना ध्यान लगाकर कोर्स की किताबें नहीं पढ़ते थे। इसलिए उनकी माँ उनकी स्कूली पढ़ाई को लेकर चिंतित रहती थीं।



Copyright © excellup 2014